सेक्सी वीडियो एचडी चोदी चोदा

चूत में लंड डालो

चूत में लंड डालो, जब मैंने उसे देखा तो देखते ही रह गया.. उसने लो कट वाला टॉप पहना था। उसमें से उसके मम्मे बड़े ही साफ दिख रहे थे। राजेश बोला की मुझे पता है की ये मेरा कोई दोस्त है जो मेरा बकरा बना रहा है लेकिन फिर भी बोलो की मुझे क्या करना होगा.

मॅनेजर ने खुशी-2 अपना मोबाइल निकाल कर दे दिया...उसके पास आई फोन 5 था..जिसे देखकर काव्या काफ़ी खुश हुई..और उससे मोबाइल लेकर ,थेंक्स बोला और मैनेजर से हाथ मिलाकर वापिस अंदर आ गयी.. कंसक-मित्तल अब यह बबिता की जगह लेगी और बाकी सबको बताएगी की बबिता की दूसरे शहर में नोकरी लग गयी है इसलिए वो वँहा चली गयी है ।

मैं ना जाने कैसे बेहोश मदहोश दोनों ही हो गई थी. मैं बोली अंकल बहुत दर्द हो रहा है पीछे.. मुझे बचा लो, मैं मर जाऊंगी. चूत में लंड डालो जो अभी तक अपनी आँखों के उपर जमी हुई मलाई को खुरछ-2 कर खा रही थी..उसकी आँखे बंद थी..पर दरवाजे के खुलने और बंद होने से वो समझ गयी की विक्की वापिस आ गया है..और उसके हाथों की उंगलियाँ फिर से उसकी रसीली चूत के उपर रगड़ खाने लगी..

ఫక్ మీనింగ్ ఇన్ తెలుగు

  1. तभी जीजा उल्टे हो गए, उन्होंने अपने पैर मेरे मुंह तरफ कर दिए और अपना मुंह मेरे पैरों तरफ…मैं बोली- जीजा छोड़ दो, जाने दो!मेरे मुंह से सिर्फ यही सब निकल रहे थे, जीजा को इन बातों से कोई मतलब नहीं था कि मैं क्या बोल रही हूं, मेरी क्या हालत है?
  2. तभी उसके बूब्स चूसने और इस तरह की मस्त बातों से मुझमें बहुत जोश आ गया और मैं पीयूष के लन्ड को जोर से पकड़ कर ऊपर नीचे करने लगी और बोली- जाने दे पीयूष, तू रोज ऐसे दबाना और चूसना तो मेरे बूब्स बहुत बड़े हो जायेंगे और इनसे दूध भी निकलने लगेगा, और जब दूध इनसे निकलने लगेगा तो मैं दूध तुम्हें पिला दूंगी. यूपी पुलिस भर्ती 2020 की कब निकलेगी
  3. रश्मि धीरे से बोली : पर ऐसे थोड़े ही करता है कोई...एकदम से जानवर की तरह तुम तो मुझपर झपट ही पड़े...'' पर ये बात काव्या ने काफ़ी सोच समझ कर कही थी..क्योंकि वो समीर को जानती थी..बाहर आकर वो सिर्फ़ अपने आप को उसे दिखा सकती थी..पर अंदर के छोटे से केबिन मे वो काफ़ी कुछ कर भी सकती थी उसके साथ..
  4. चूत में लंड डालो...पूरा कमरा सनी की कामुक आवाज़ों और फच-2 के संगीत से सराबोर हो गया। लियोनी अपनी मोटी गांड पीछे कर करके अपनी चूत मरवा रही थी, राहुल उसके ऊपर सांड की तरह चढ़ा हुआ था, सनी को कमर से पकड़ के झटके दिए जा रहा था। उधर रेणुका पहले तो तेज़ तेज़ चढ़ी फिर जब थक कर थोडा धीमे हुई तो राजेश उसके बराबर आ गया और बातें करते करते उसके साथ चलने लगा और जैसे वो लोग पहाड़ी पर पहुचने वाले थे राजेश ने अचानक रेणुका को पीछे से कमर में हाथ डाल कर उठा लिया और चलने लगा.
  5. इतना कहकर वो अपने सोतेले बाप के गले से झूल सी गयी...और अपना लचीला बदन समीर के जिस्म से लपेटकर अपने बदन की गर्मी वहाँ ट्रान्स्फर करने लगी .. राजेश की बात सुनकर रेणुका शर्मा गयी और उसने दिव्या के हाथ से लेकर चादर से अपने को ढक लिया और बाथरूम में घुस गयी और राजेश भी उठ कर कपडे पहनने लगा. वैसे सच में आज राजेश के बगल में अपनी नंगी बीवी को देखकर मुझे भी वो बहुत सेक्सी लग रही थी.

आरसीबी कितनी बार फाइनल में पहुंची है

मेरे मुह से तो लार टपकना सुरु होगई थी मन कर रहा था कि अभी पूरा निप्पल अरेओला समेत मुह में भर है चूस लू...

नितिन ने जब ये बात सुनी तो उसके सारे अरमान पानी की तरहा बह गये, उसके लॅंड की अकड़न ढीली पड़ गयी और उसका लॅंड भी उसके चेहरे की तरह मायूस होकर लटक गया. रमा(उसके मोटे लन्ड को अपनी चूत पर सेट करते हुए) -आज तो बडी बातें आ रही हैं मेरे भोंदू राजा को ,चल अब अपनी इस रंडी माँ की चूत में अपना मूसल लन्ड डाल दे ।

चूत में लंड डालो,और हुआ भी ऐसा ही..विक्की के ऐसा कहने की देर थी की काव्या बोल पड़ी : अरे नही विक्की....ऐसी कोई बात नही है...मैं एंजाय तो कर रही हू...चलो आओ...सिख़ाओ मुझे तैरना...''

मैंने कहा अब तो घुस ही गया है डार्लिंग बस तुम अपनी टाँगे खोल लो. और फिर दिव्या की टाँगे चौड़ी करके एक धक्का और मार दिया.

और ये सब बाते सोचते-2 उसकी चूत इतनी बुरी तरह से गीली हो रही थी की उपर से बहता हुआ पानी भी उसकी चूत का गाडापन हल्का नही कर पा रहा था.अबाउट का हिंदी में अर्थ

और काव्या अपनी ही धुन मे अपने बालों को सूखने मे लगी थी ...उसने जब देखा की समीर एकदम से टकटकी लगाकर शीशे मे कुछ देख रहा है तो उसे ये अहसास हुआ की जिस एंगल मे वो बैठी है,उसमे उसकी चूत साफ़ दिख रही होगी उसके बाप को ..वो एकदम से खड़ी हो गयी .. फिर उसे थोड़ा-2 होश आने लगा। वो सीधा वाश रूम की तरफ भागी और सारि दारू की उल्टी करने लगी और उसका सारा नशा उतर गया। वो हाथ मुँह धो कर बाहर आई।

एक घंटे पहले तक तो थोड़ी देर के लिए वो भी बहक गयी थी...और शायद पहले ये सब होता तो वो मना नही करती...पर अब उसका काम हो चुका था...वो अपनी माँ के खिलाफ वो सबूत इकट्ठे कर चुकी थी जिसका इस्तेमाल करके वो उसे बाद में उसका चेहरा दिखा सकती थी..अगर वो उसके और समीर के संबंधो पर कोई सवाल उठती तो...

अब तक इस ग्रुप सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि मेरे मौसेर भाई ने मेरी चूत में पूरी ताकत से लंड डाल दिया और जम के धक्के मारने लगा. 5 मिनट के अन्दर ही उसने मेरी चूत को और मुझे बेहाल कर दिया. मुझे कुछ होश नहीं था.. मैं हवश और चुदाई की आग में जलने लगी, मदहोश हो गई.अब आगे..,चूत में लंड डालो दो दिन बाद मम्मी ने कहा- सोनू, खाना तू परोसा कर आज से!तो मैं खाना परोस रही थी, जैसे ही झुक के खाना देने लगी तब मैंने देखा कि वहां बैठे सभी मर्द, एक दो को छोड़कर, सब मेरी तरफ घूरे जा रहे थे.

News