ನಮಿತಾ ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ

मराठी में सेक्स

मराठी में सेक्स, देखलो पापा ,ठीक से देख लो, ये ही वो जगह है जिस पर आपका ये हथियार ( लंड की तरफ इशारा करते हुए ) चुभ रहा था , मुझे बड़ी परेशानी हो रही थी, वैसे आप चाहो तो इसे छू कर भी देख सकते हो, अभी भी बिल्कुल गरम है पराग: यह मिहिर तुम्हारी नंगी तस्वीर क्यों बनाना चाहता हैं, वो अपनी बीवी की ऐसी तस्वीर क्यों नहीं बनता

राज रोमा की बातों को सुन कर जोश से भर गया….और तेज़ी से अपनी कमर को ऊपेर की ओर उछाल कर रोमा की चूत मे अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा….रोमा मस्ती मे आकर आहह ओह्ह्ह बाबू जी करने लगी…..और मस्त होकर अपनी गान्ड को उछाल-2 कर राज के लंड पर पटाकने लगी… दूसरी तरफ शाम के 5:30 राज एप्रा गाँव विशाल के घर पहुँच गया. विस बिशाल काफ़ी अमीर आदमी था. पर राज के मुक़ाबले काफ़ी कम था. विशाल की हवेली भी राज की हवेली की तरहा आलीशान थी. विशाल राज को देख कर बहुत खुस हुआ.

मनिका धीरे धीरे अपने कदम बढ़ाये जा रही थी, उसकी सांसे ऊपर नीचे होने लगी थी, उसे कुछ समझ नही आ रहा था, अगर वो सचमुच कनिका हुई तो मैं क्या करूंगी, मनिका को कुछ पता नही चल रहा था वो बस आगे बढ़ी जा रही थी, और जल्द ही वो अपने पापा के रूम के दरवाजे के सामने खड़ी थी मराठी में सेक्स कुछ देर पहले लंड के एहसास से मनिका पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी, उसकी सांसे अभी भी तेज चल रही थी, उत्तेजना उसके सर पर सवार थी ,ये नाकामी उससे बर्दाश्त नहीं हो रही थी,

सेक्सी विडियो हिंदी में चुदाई

  1. और दोनो केफे से बाहर आ गये...राज अपनी कार लाने चला गया....जब राज कार लेकर आया..तो ललिता उसका गेट पर खड़ी इंतजार कर रही थी...ललिता राज की कार की आगी वाली सीट पर बैठ गयी....राज का चेहरा उतरा हुआ था....दोनो ने सारे रास्ते मे कोई बात नही की...ललिता का घर आ गया था...
  2. लकी: ताकि मुझ पता चल सके आप के दिल मे मेरे बारें मे क्या है आप तो जानती है मे आप से कितना प्यार करता हूँ 2 साल से मेने आप के सिवा किसी और लड़की को देखा तक नही এক্স এক্স এক্স সানি লিওনের ভিডিও
  3. आदम : माँ गढ़े मुर्दे क्यूँ उखाड़ रही हो? जब तुम्हें पता है मुझे तुम्हारे साथ किसी गैर मर्द की चर्चा भी नही सुनना अच्छा लगता क्या तुम अब भी उससे मोहब्बत करती हो? आदम : अर्रे कुछ नही माँ बस ऐसे ही वो शरमा रहा था क्यूंकी आगे जाने का आक्सेस अडल्ट्स को है और हम यही तो देखने आए है
  4. मराठी में सेक्स...मनिका और जयसिंह मुस्कुरा दिए और एक बार फिर से अपने काम पर लग गये.मनिका उसे चूमने में और जयसिंह उसके बूब्स को दबोचने में .. अगले दिन ऑफीस में माँ का कॉल आया....माँ काफ़ी खुश लग रही थी उसने बताया कि तुझे समीर ने ईमेल किया है उसमें हम दोनो के लिए उसने दो एर टिकेट्स भेजा है...मैं ये सुनके चकित हो गया अब क्या कहूँ ये दोस्त था ही कुछ ऐसा
  5. जयसिंह उसके ऊपर झुक गया, कनिका ने उसे अपनी बाहों में कस लिया और उसके आँखो में झाँकते हुए बोली आइ लव यू पापा और फिर दोनो के होंठ फिर से आपस में गुथम गुत्था हो गए, फिर से वही उम्ह्ह आहह उन्घ्ह की आवाज़े उनके मुँह से आने लगी ‘उन्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह…’ एक ज़ोरदार सिसकी के साथ मनिका ने अपना अधोभाग ऊपर उठाया था, ‘उन्ह्ह्ह्ह…ह्म्प्फ़्फ़्फ़्फ़…’ एक दो बार और उसका शरीर थरथर्राया और फिर वह शांत हो गयी, उसकी गाँड अभी भी ऊँची उठी हुयी थी.

एचडी एक्स एक्स वीडियो

ज्योति : अरे वो बस काम निपटाए आ ही रहे है शरीक़ तो होंगे ही कपड़े भी साथ लेके गये है तय्यार होके आएँगे

संजीव : दट;स गुड निशा तुम नही जानती मेरी ज़िंदगी में तुम्हारे आ जाने से मैं कितना खुश हूँ (निशा की पीठ पे हाथ फेरते हुए) बाहर जयसिंह अभी हुई घटना के बारे में सोच सोच कर परेशान हो रहा था ,उसे समझ ही नही आ रहा था वो इस पर कैसे रियेक्ट करे,

मराठी में सेक्स,गुरमीत: लकी बॅस अब मैं और खड़ी नही रह सकती मेरे पावं मेरा साथ नही दे रहे हैं ओह्ह लकी उंह मुझी कुछ हो रहा है

ताहिरा : अच्छा छोड़ अपनी मौसी के घर इस हालत में घुस रहा था अगर पीछे से कोई तुझे पकड़के चिल्लाके आदमी इकहट्टा करवा देता तो और वैसे भी तू पूरा बॅंक लूटेरा लग रहा है इस कपड़े के बने मास्क को पहनके

धुआ छोड़ते हुए राजीव ने मुझे फिर मुस्कुराते हुए देखा और बात शुरू की..डीलर इस बीच सिगरेट का कश लिए हम दोनो की जैसे बातें सुन रहा था...बरफ के पानी रगरत बानी

राज : (विशाल के बोलने से फैलाए ही राज बोल उठा) नही विशाल इसके लिए दूसरी कब्र खोड़ो….इसकी माँ इस लायक नही है, कि इसके बेटे की लाश को इसके साथ गाड दिया जाए…. दोनों की सांसे तेज चल रही थी जयसिंह अपनी कमर का दबाव आगे की तरफ अपनी बेटी पर बढ़ाए ही जा रहा था और उसका तगड़ा लंड बुर की चिकनाहट की वजह से खिसकती हुई पैंटी सहित हल्के हल्के अंदर की तरफ सरक रहा था, दोनों का चुदासपन बढ़ता जा रहा था कि तभी दोबारा जोर से बादल गरजा और उन दोनों की तंद्रा भंग हो गई,

जयसिंग ने तुरंत मनिका के एक हाथ को पकड़कर अपने फ़ंफ़नाते लंड पर रख दिया, मनिका भी किसी समझदार शिष्य की भांति उसके लंड को पाजामे के ऊपर से ही मसलने लगी , जयसिंह और मनिका की हवस अब सारी सीमा लांघने को तैयार ओर बेकरार थी, परन्तु जयसिंह को कनिका का भी थोड़ा ध्यान रखना जरूरी था

तो क्या हुआ पापाआआआ..... आप मेरे कमरे में चलिए ना, मेरे पास 3-4 टॉवल हैं, आप उनमे से किसी को यूज़ कर सकते है मनिका के मन मे आगे का प्लान पूरी तरह तैयार हो चुका था,मराठी में सेक्स इधर मनिका की आंखों से जयसिंह की ये हालात छुप नही पायी, दरअसल ये उसी की खुराफात थी , उसने पहले से ही जयसिंह पर कहर ढाने की तैयारी कर ली थी,

News